अधिवक्ता उमेश बर्णवाल बने नीतीश के सिपाही, दिल्ली प्रदेश सचिव की जिम्मेदारी मिली

बरनवाल वैश्य सभा दिल्ली के संगठन मंत्री अधिवक्ता उमेश कुमार बर्णवाल की ऊर्जा, उनकी संगठन करने की क्षमता को देखते हुए जनता दल यूनाइटेड के राष्ट्रीय अध्यक्ष व बिहार प्रदेश के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने दिल्ली प्रदेश में उन्हें जिम्मेदारी दी है। उन्हें दिल्ली प्रदेश इकाई का प्रदेश सचिव बनाया है। Continue reading “अधिवक्ता उमेश बर्णवाल बने नीतीश के सिपाही, दिल्ली प्रदेश सचिव की जिम्मेदारी मिली”

बरनवाल वैश्य सभा दिल्ली की कार्यकारिणी ने मनाई मकर संक्रांति

दिल्ली में महात्मा गांधी मार्ग स्थित विश्व शांति स्तूप के समीप इंद्रप्रस्थ पार्क में मकर संक्रांति का पर्व बरनवाल समाज के लोगों ने मनाया। मकर संक्रांति के मौके पर बरनवाल वैश्य सभा के कार्यकारिणी की सोच थी। यहां आने वाले सदस्यों और उनके परिजनों से वन टू वन मुलाकात होगी। इसलिए पंजीकृत 104 सदस्यों को कूरियर से पत्र भेजा गया। विधिवत रूप से इसके आमंत्रित किया गया।

Continue reading “बरनवाल वैश्य सभा दिल्ली की कार्यकारिणी ने मनाई मकर संक्रांति”

बरन पुंज के जनवरी-जून 2017 का अंक पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

बरन पुंज पत्रिका का नया अंक (जनवरी-जून2017) पढ़ना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक को क्लिक करें। फाइल डाउनलोड करें और पढ़े। आपको पत्रिका अच्छी लगे और इसका प्रिंट कॉपी नियमित रूप से अपने पास मंगवाना चाहते हैं तो पत्रिका का आजीवन सदस्य बनें। सदस्य बनने के लिए पत्रिका के संपादक या फिर प्रतिनिधि मंडल से संपर्क करें। विवरण पत्रिका के पीडीएफ फाइल में दिया हुआ है। 

BP_jan-jun2017

जीवन में बदलाव के लिए ‘मोदी सूत्र’ पढ़ना जरूरी

देश और दुनिया के सामने प्रधानमंत्री मोदी एक वैश्विक राजनेता बनकर सामने आए हैं। गुजरात के मुख्यमंत्री बनने के बाद से लगातार मोदी का विरोध हो रहा है। इसके बाद भी, हर बार नरेंद्र मोदी नई शक्ति और ऊर्जा के साथ दुनिया के सामने प्रस्तुत हुए हैं। हर बार विरोधियों की चाल उल्टी पड़ती गई। ऐसे शख्स के बारे में हर कोई जानना चाहता है। मोदी पर अब तक तीन सौ के करीब किताबें आई है। उसमें एक नाम और जुड़ गया ‘मोदी सूत्र’। Continue reading “जीवन में बदलाव के लिए ‘मोदी सूत्र’ पढ़ना जरूरी”

अहिबरण जयंती महोत्सव में भाग लें

दिल्ली एनसीआर में रहने वाले सभी बरनवाल बंधुओं के लिए खुशखबरी है। हर साल की तरह इस साल भी 25 दिसंबर, 2016 को अहिबरण जयंती धूमधाम से मनाया जाएगा। बरनवाल वैश्य सभा इस कार्यक्रम की तैयारी कर रही है। निमंत्रण पत्र प्रिंट कराया जा चुका है।

वर्चुअल रूप में निमंत्रण पत्र आपके सामने है। आप सभी बरनवाल बंधुओं का स्वागत है।

अहिबरण जयंती 2015 महोत्सव की झलकियां

बरन पुंज के जुलाई-दिसंबर 2016 का अंक पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

बरन पुंज पत्रिका का नया अंक (जुलाई-दिसंबर2016) पढ़ना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक को क्लिक करें। फाइल डाउनलोड करें और पढ़े। आपको पत्रिका अच्छी लगे और इसका प्रिंट कॉपी नियमित रूप से अपने पास मंगवाना चाहते हैं तो पत्रिका का आजीवन सदस्य बनें। सदस्य बनने के लिए पत्रिका के संपादक या फिर प्रतिनिधि मंडल से संपर्क करें। विवरण पत्रिका के पीडीएफ फाइल में दिया हुआ है। 

BP_July-Dec2016