सच्ची सुंदरता

सुंदरता मुख्य रूप से दो प्रकार की कही जा सकती है – आंतरिक सुंदरता और बाह्य सुंदरता अर्थात् मन की सुंदरता और तन की सुंदरता। जब हम कहते हैं कि अमुक व्यक्ति का मन अतिसुंदर है, तो इसका अभिप्राय है कि परोपकार, करुणा, दया आदि मानवीय गुणों से वह व्यक्ति परिपूर्ण है। किन्तु जब हम किसी व्यक्ति के विषय में यह कहते हैं कि देखो, वह व्यक्ति कितना सुंदर दिखाई दे रहा हैं, तो इसका मतलब है कि शारीरिक सौष्ठव, रंग-रूप की दृष्टि से वह व्यक्ति आकषर्ण का केंद्र है।  Continue reading “सच्ची सुंदरता”

दिल्ली के बरनवाल समाज ने की सामूहिक आरती

अहिबरण जयंती के मौके पर मंचासीन विख्यात पत्रकार जयशंकर गुप्त, पूर्व कानून मंत्री सोमनाथ भारती, बरनवाल वैश्य सभा के अध्यक्ष एनके बरनवाल व अन्य। फोटो : आरती बरनवाल

दिल्ली में 25 दिसंबर 2018 को आईटीओ के पास राजाराम मोहन राय मेमोरियल हॉल में महाराजा अहिबरण जी की जयंती मनाई गई। बरनवाल वैश्य सभा दिल्ली के बैनर तले दिल्ली एनसीआर के बरनवाल बंधुओं ने महाराजा अहिबरण जी की सामूहिक आरती की है। सामूहिक आरती गान का वीडियो देखकर अंचभित रह जाएंगे आप …

बरन पुंज पत्रिका में भागीदारी करने का मौका, आवेदन करें

अगर आप लेखन, संपादन में रूचि रखते हैं तो आपके लिए एक अच्छी सूचना है। दिल्ली से प्रकाशित होने वाली बरन पुंज पत्रिका में सक्रिय भागीदारी निभाने का मौका आपके हाथ आया है। बरन पुंज पत्रिका के लिए संपादक मंडल और प्रतिनिधि मंडल को पुनर्गठित किया जा रहा है।  Continue reading “बरन पुंज पत्रिका में भागीदारी करने का मौका, आवेदन करें”

डॉ. एन के बरनवाल सर्वसम्मति से दिल्ली के अध्यक्ष मनोनित, महासचिव बने अधिवक्ता उमेश बर्णवाल

बरनवाल वैश्य सभा दिल्ली के अध्यक्ष कैप्टन आरपी बरनवाल और महासचिव श्री मुन्नी लाल जी के इस्तीफे से उत्पन्न परिस्थिति में 20 मई, 2018 को बरनवाल वैश्य सभा दिल्ली की कार्यकारिणी की बैठक बुलाई गई। बैठक में एक-दो कार्यकारिणी के सदस्यों को छोड़कर पूरी कार्यकारिणी उपस्थित हुई। अध्यक्ष और महासचिव के इस्तीफे से उत्पन्न स्थिति को देखेते हुए शेष कार्यकाल के लिए सर्वसम्मति से सभा के वरिष्ठ सदस्य डॉ. नरेन्द्र कुमार बरनवाल को अध्यक्ष मनोनित किया गया। इसके साथ संगठन प्रभारी अधिवक्ता उमेश बर्णवाल को महासचिव मनोनित किया गया। Continue reading “डॉ. एन के बरनवाल सर्वसम्मति से दिल्ली के अध्यक्ष मनोनित, महासचिव बने अधिवक्ता उमेश बर्णवाल”

बरनवाल वैश्य सभा के अध्यक्ष कैप्टन साहब व महासचिव मुन्नी लाल जी का इस्तीफा मंजूर

फरीदाबाद में 25 दिसंबर, 2017 को आयोजित अहिबरण जयंती में भाग लेते कैप्टन रामजीवन प्रसाद बरनवाल। (फाइल फोटो)

बरनवाल वैश्य सभा दिल्ली की परिकल्पना करने से लेकर 32 सालों से इसे सुचारू रूप से संचालन करने, समाज के बंधुओं को एकता के सूत्र में पिरोने का काम करने वाले कैप्टन साहब और मुन्नी लाल जी ने अपने-अपने पदों से इस्तीफा दे दिया।

लंबे समय तक बरनवाल वैश्य सभा का नेतृत्व कर रहे कैप्टन रामजीवन प्रसाद बरनवाल जी ने अधिक उम्र और स्वास्थ्य का हवाला देते हुए बरनवाल वैश्य सभा की कार्यकारिणी को संबोधित करते हुए इस्तीफा पत्र दिया। इस पत्र में उन्होंने पदमुक्त करने और नए लोगों को इसके लिए आगे आने का आह्वान किया। Continue reading “बरनवाल वैश्य सभा के अध्यक्ष कैप्टन साहब व महासचिव मुन्नी लाल जी का इस्तीफा मंजूर”

बरनवाल वैश्य सभा, दिल्ली के महासचिव बने मुन्नी लाल, विरेन्द्र को मिली कोषाध्यक्ष की जिम्मेदारी

वर्ष 2017-19 के लिए बरनवाल वैश्य सभा, दिल्ली की नई कार्यकारिणी गठन हो गया है। सभा के सक्रिय कार्यकर्ताओं की सर्व सहमति से प्रताप विहार, गाजियाबाद के रहने वाले श्री मुन्नी लाल जी को बरनवाल वैश्य सभा दिल्ली का महासचिव बनाया गया है जबकि मंडावली, पूर्वी दिल्ली के श्री विरेन्द्र कुमार बरनवाल सभा का कोषाध्यक्ष बनाया गया है। Continue reading “बरनवाल वैश्य सभा, दिल्ली के महासचिव बने मुन्नी लाल, विरेन्द्र को मिली कोषाध्यक्ष की जिम्मेदारी”

बरन पुंज के जनवरी-जून 2018 का अंक पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें

बरन पुंज पत्रिका का नया अंक (जनवरी-जून2018) पढ़ना चाहते हैं तो नीचे दिए गए लिंक को क्लिक करें। यहां पीडीएफ फाइल है। उसे डाउनलोड करें और पढ़े। इसमें मां पर कविता है तो चित्रकार के नाम से एक प्रेरक प्रसंग है। वहीं युवा कहानीकार सुरेश बरनवाल की कहानी सैनिक और बंदूक भी है जिसे वर्ष का सबसे बेहतरीन कहानी चुुना गया था।

BP_Jan_Jun2018

आपको पत्रिका अच्छी लगे और इसका प्रिंट कॉपी नियमित रूप से अपने पास मंगवाना चाहते हैं तो Continue reading “बरन पुंज के जनवरी-जून 2018 का अंक पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें”