इतिहास पर मुकेश बरनवाल की दो पुस्तकों का विमोचन

दिल्ली के कटवरियासराय स्थित श्री लाल बहादुर शास्त्री राष्ट्रीय संस्कृत विद्यापीठ के सभागार में 11 अगस्त, 2018 को श्री मुकेश बरनवाल द्वारा भारतीय इतिहास पर लिखी दो पुस्तकों का विमोचन का हुआ। पुस्तकों का नाम ‘पाषाण काल से आजादी तक’ और ‘भारत का राष्ट्रीय आंदोलन’ है। दो पुस्तकों का विमोचन कार्यक्रम संवर्धन ट्रस्ट के तत्वावधान में आयोजित हुआ। पुस्तकों का विमोचन दिल्ली विश्वविद्यालय तथा अन्य संस्थानों से आए प्रोफेसर और विद्वजनों के हाथों संपन्न हुआ। 

कार्यक्रम को प्रो. यूथिका मिश्रा, प्रो. ज्योत्स्ना तिवारी, प्रो. वेदव्रत तिवारी, प्रो. शशिभूषण सिंह, प्रो. अखिलेश मिश्रा आदि ने दोनों पुस्तकों की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि ये पुस्तकें न सिर्फ सिविल सर्विसेज परीक्षा में, अपितु विश्वविद्यालयीय स्तर पर भी भारतीय इतिहास पर पूछे जाने वाले सवालों का समाधान प्रस्तुत करता है। जन सामान्य लोग, जो भारत के इतिहास का एक सारगर्भित एवं संक्षिप्त परिचय जानना, समझना चाहते हैं। उनके लिए यह उपयोगी साबित हो सकता है।

पुस्तक के लेखक श्री मुकेश बरनवाल इलाहाबाद में रहते हैं। वह इलाहाबाद में ही पिछले डेढ़ दशक से प्रदेश प्रशासनिक प्रतियोगिता के अलावा बैंक, रेलवे और एसएससी की तैयारी के लिए एक कोचिंग संस्थान चलाते हैं। इन्होंने इन दो पुस्तकों के लिखने से पहले भी चार पुस्तकें लिख चुके हैं।

अगर आप हमें आर्थिक रूप से मदद करना चाहते हैं तो जानकारी के लिए यहां क्लिक करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *